Advertisements
Gaurav Pandey Jageshwar

जागेश्वर में लोगो की उम्मीद की किरण, गौरव पांडे

आज उत्तराखंड के हालत किसी से छुपे हुए नहीं हैं व अल्मोड़ा व पौड़ी कुमाऊ व गढ़वाल के सबसे ज्यादा संक्रमित लोग पाए जा रहे हैं| अल्मोड़ा के जागेश्वर विधानसभा में एक नाम आजकल चर्चा का वि षय बना हुआ है। जो अपना घर परिवार छोड़ दिन रात लोगो को संक्रमण से बचाने में लगा हुआ हैं| ऐसा नहीं हैं की यह पहली बार हुआ हैं पूर्व में भी यही व्यक्ति युवाओ में खेल प्रोत्साहन को लेकर कई काम कर चुका है व आजकल युवाओ में इनकी ख़ास पहचान हैं|

आपको याद हो तो कुछ समय पूर्व इसी व्यक्ति द्वारा क्षेत्र में बेकिंग सेवाओ की उपेक्षा को लेकर सहकारी बैंक के चेयरमैन श्री लटवाल व राज्य मंत्री श्री धन सिंह रावत से अनुरोध करके बैंक की शाखा भी खुलवाई व स्वास्थ केन्द्रों में उपकरणों की कमी को पूरा करवाया|

शायद आप सभी को अब तक पता चल ही गया होगा की इस व्यक्ति के बारे में जो की गौरव पांडे के नाम से जाने जाते हैं| जागेश्वर विधानसभा में ऐसा कोई सा द्वार नहीं होगा जन्हा गौरव ने जा जाकर लोगो को संक्रमण के विषय में ना बताया हो व जन्हा हो सका लोगो को जरूरत के हिसाब से संक्रमण से लड़ने के लिए वो हर सहायता प्रदान की जिसको उनकी जरूरत थी|

गौरव पांडे जागेश्वर के तोली-बरतोली के रहने वाले हैं। गौरव बताते हैंउनका पैत्रिक गांव तोली है, जहाँ उनके चाचा, बड़े भाई सभी रिश्ते नातेदार रहते हैं। वैसे गौरव पांडे की शि क्षा देश के प्रतिष्ठित दिल्ली विश्विद्यालय में में हुई| दिल्ली विश्वविध्यालय में गौरव पढ़ाई के साथ साथ खेल, समाज सेवा व राजनितिक गतिविधियों में भी शामिल रहे व यही कारण रहा की वो लोगो की भावनाओ के सम्मान करते हुए ना केवल कॉलेज में चुनाव लडे व जीते भी| उन्होंने अपने कार्यकाल में विद्यार्थियों के लिए नित नए अवसरों व सुविधाओ के द्वार खोले|

गौरव में नेत्रित्व के साथ साथ खेल भावना भी कूट कूट के भरी हुई हैं वैसे कम ही लोगो को मालूम हैं की गौरव एक अच्छे फ़ुटबाल खिलाड़ी के साथ साथ एक अच्छे धावक भी हैं व वर्तमान में गौरव राष्ट्रीय युवा सहकारी संस्थान, भारत सरकार में निदेशक हैं और यही कारण है की गौरव खेल को एक जीविका व सामजिक उत्थान का माध्यम भी मानते हैं व युवाओ को खेल के प्रति गंभीर होने के लिए प्रेरित भी करते हैं| वो जानते हैं की हमारे यूवाओ में ताकत व कर्मठता की कोई कमी नहीं हैं बस जरूरत हैं तो उसको दिशा, संसाधन व अवसर देने की और वही वह कर रहे हैं|

यह गौरव पांडे की जीवटता व अपने लोगो के प्रति समर्पण ही तो हैं जो स्वय व परिवार के गंभीर रूप से संकर्मित होने के बावजूद भी आज जागेश्वर में लोगो के बीच में उसी जोश व उत्साह से मिल रहा हैं जबकि चिकित्सको ने उसे एक माह के आराम की सलाह दी थी|

गौरव पांडे से जब हम लोग ने बात की तो थोड़े भावुक से हो गए और बोले की राज्य सरकार अपनी और से हर संभव प्रयास कर रही हैं लेकिन पहाड़ी राज्य व दुर्गम क्षेत्र होने के कारण सभी जगह सुविधाओ का पहुच पाना संभव नहीं हैं इसलिए वह इसे स्वय की जिम्मेवारी मानते हुए जो भी प्रयास हो सकते हैं वो कर रहे हैं ताकि इस विपत्ति में लोगो को कम से कम परेशानियों का सामना करना पड़े|

गौरव जागेश्वर विधानसभा में लगभग हर घर में होकर आ चुके हैं क्योकि क्षेत्र बहुत बड़ा व दुर्गम हैं इसलिए हो सकता हैं की जन्हा पहले सही था वंहा लोगो को कुछ परेशानियों का सामना करना पड रहा हो तो उसके लिए गौरव द्वारा सेवा दल का गठन किया हुआ हैं जो 5 5 गावो में लोगो को हो रही परेशानियों का हल करते हैं व यही नहीं गौरव द्वारा जागेश्वर विधानसभा क्षेत्र के लिए लाखो रुपये की जीवन रक्षक दवाईया व रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए दवाइयों का वितरण किया गया हैं व यही नहीं आरतोला स्थित अपने घर में आपातकाल में 5 लोगो के इलाज की व्यवस्था के भी इन्तेजाम किये हुए हैं|

Leave a Reply