उत्तराखंड का शासन प्रशासन देखकर तो लगता हैं की दूरदर्शिता व तंत्र पूरी तरह ध्वस्त हो चुका हैं।  इसका ताजा उदहारण हमें नैनीताल के हल्द्वानी क्षेत्र में देखने को मिला जंहा लोग प्रशासन के हर बार मिलने वाले झुनझुने से त्रस्त  होकर अपने अधिकारों के लिए रोड पर आकर आत्मदाह करने पर उतारू हो गए। मामला हल्द्वानी तहसील से महज