एक बार दिल्ली से बाहर चले जाओ तो स्वाद व जायका पूरी तरह बदल जाता हैं और अगर दिल्ली वाला कोई दक्षिण भारत की और चला जाए तो उसे दिल्ली वाला जायका मिल जाए वो तो संभव ही नहीं है और स्वाद के लिए हर जगह का खाना खाना भी संभव नहीं हो पाता| लेकिन इस बार तो सच में